Shraman Sanghiya Sadhviji

Search Shraman Sanghiya Sadhviji

Feedback/Report Error

Invalid Input
Invalid Input
Invalid Input
Invalid Input

New Registration for Sadhu / Sadhvi

Therefore you are welcome to buy papers online as by http://www.budowlanijazowsko.pl/?show-my-homework-review you give yourself a good opportunity to have time for work, Register

Sadhvi Shri Atmjyoti Ji Maharaaj(साध्वी श्री आत्मज्योति जी म.सा.)

Brief Introduction

सामान्य विवरण
Sadhvi Shri Atmjyoti Ji Maharaaj साध्वी श्री आत्मज्योति जी म.सा.
11-07-1972
 
मद्रास
मद्रास मद्रास
तमिलनाडू आचार्य सम्राट पूज्य श्री आनन्द ऋषि जी म.सा., दक्षिण ज्योति पूज्य श्री आदर्शज्योति जी म.सा.
पूज्य गुरुदेव श्री रत्नऋषि जी म.सा., मालवसिंहनी प्रवर्तिनी पूज्य श्री रतनकुंवर जी म.सा.
2 वर्ष 10-04-1993, मद्रास
आचार्य सम्राट पूज्य श्री डॉ शिवमुनि जी म.सा.


जैन सिद्धान्त विशारद, 5 शास्त्र कंठस्थ, कई थोकड़े कंठस्थ, बाकी शास्त्रो की वाचनी, ( दशवैकालिक सूत्र, उत्तराध्ययन सूत्र, नंदी सूत्र, सुखविपाक सूत्र, अनुत्तरोववाई - कंठस्थ, तत्वार्थ सूत्र ) एम.ए.


ज्ञान गंगा
ज्ञानसागर
मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, गुजरात, कर्नाटक, तमिलनाडु, चण्डींगढ़, राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, उतरांचल  
चातुर्मास विवरण तालिका
1993 - मदुरान्तकम
1994 - होसुर
1995 - आश्वी
1996 - महावीर नगर, इंदौर
1997 - बड़वाह
1998 - महामन्दिर, जोधपुर
1999 - निम्बाज होली, जोधपुर
2000 - आमेट
2001 - फरीदाबाद
2002 - पटियाला
2003 - नवां शहर
2004 - अरिहंत नगर, दिल्ली
2005 - वीर नगर, दिल्ली
2006 - मुम्बई
2007 - वलसाड
2008 - वापी
2009 - पाली
2010 - रामा विहार, दिल्ली
2011 - फरीदाबाद
2012 - महावीर नगर, इंदौर
2013 - जानकी नगर, इंदौर
2014 - सुदामा नगर, इंदौर
2015 -
2016 -
2017 -
   

discovery school homework help Anyone Used Essay Writing Service writing a dissertation uk service essay example  

We Make Our Professional Anpr Dissertation Affordable and Quality for You  

  आपकी प्रेरणा से संचालित संस्था का नाम, संस्था के पदाधिकारी का नाम, पद, शिक्षा, आयु व पता
   
   
   
   
   
   

 

  अन्य विवरण
   ज्ञान पंचमी आराधना, रत्नावली तप, वर्षितप
 कु. श्री सरोज सम्पतराज जी लुंकड़  श्री मान सम्पतराज जी लुंकड़
 श्री मति इन्दिरा जी लुंकड़  श्री उत्तमचंद जी, श्री बच्छराम जी, श्री दिलीप जी
   दादाजी प्रकृति प्रेमी थे। एक बार जब उन्हे पता लगा जंगल मे वृक्षो को काट रहे है, तो वो उनसे लिपट गये। कहां इनको काटने से पहले मुझे कटों उसी स्थान पर उनको अटेक आया, उसी समय संथारा कर लेते है। और काल धर्म को प्राप्त करते है।

 

श्री उत्तमचंद जी लुंकड़
89, कोडामबक्कम रोड, पश्चिम मंबालाम, चेन्नई - 15

 9840313946
     

 

  धर्म के माता पिता का नाम व पता
   
     

 

  आपकी सेवा में रहने वाले सेवक कि जानकारी
   
   

 

  साधु साध्वी का संदेश